• Name
  • Email
शनिवार, 6 मार्च 2021
 
 

क्या भारत में पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती कीमतों को नियंत्रित किया जा सकता है?

शनिवार, 20 फ़रवरी, 2021  परवेज़ अनवर, एमडी & सीईओ, आईबीटीएन ग्रुप
 
 
भारत में पेट्रोल-डीज़ल के लगातार बढ़ते दाम को लेकर मोदी सरकार ने कहा है कि यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की बढ़ती क़ीमतों की वजह से है।

भारत की केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार, 20 फरवरी 2021 को चेन्नई में कहा, ''तेल उत्पादक देशों के संगठन ओपेक (OPEC) ने उत्पादन का जो अनुमान लगाया था वह भी नीचे आने की संभावना है जो फिर से चिंता बढ़ाने वाला है। तेल के दाम पर सरकार का नियंत्रण नहीं है, इसे तकनीकी तौर पर मुक्त कर दिया गया है। तेल कंपनियाँ कच्चा तेल आयात करती है, रिफ़ाइन करती हैं और बेचती हैं।''

फिलहाल भारत के कई शहरों में पेट्रोल की क़ीमत 100 रुपये के करीब पहुँच गई है। ऐसा इसलिए है कि भारत में केंद्र की मोदी सरकार और राज्य सरकारों ने पेट्रोल और डीजल पर बहुत ज्यादा टैक्स लगा रखा है।

यह सही है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतें बढ़ रही है लेकिन भारत के कई शहरों में पेट्रोल की क़ीमत 100 रुपये के करीब पहुँचने का मुख्य कारण केंद्र की मोदी सरकार और राज्य सरकारों के द्वारा पेट्रोल और डीजल पर बहुत ज्यादा टैक्स की वसूली है। अगर केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की सरकारें पेट्रोल और डीजल पर अपने-अपने टैक्स कम कर देती है तो बेशक पेट्रोल और डीजल की कीमत कम हो जाएगी।

भारत की केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी पेट्रोल और डीजल की कीमत कम करने के बारे में कहा है। निर्मला सीतारमण ने कहा, ''यह एक गंभीर मुद्दा है जिस पर क़ीमतें कम करने के अलावा कोई भी जवाब किसी को संतुष्ट नहीं कर सकता। केंद्र और राज्य सरकार दोनों को ही खुदरा तेल की क़ीमतों को उचित स्तर पर लाने के लिए बात करनी चाहिए।''

वहीं बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कहा है कि सरकार खाड़ी के देशों से बात कर रही है, तेल का उत्पादन बढ़ेगा तो फिर से तेल की कीमतों में गिरावट होगी।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इससे पहले बुधवार, 17 फरवरी 2021 को कहा था कि अगर पिछली सरकारों ने कच्चे तेल पर देश की निर्भरता कम की होती तो देश को महंगे तेल का बोझ नहीं सहना पड़ता।

मोदी ने तमिलनाडु में एक प्राकृतिक गैस पाइपलाइन के उद्घाटन के मौके़ पर कहा था, ''क्या हमें आयात पर इतना निर्भर होना चाहिए? मैं किसी की आलोचना नहीं करना चाहता लेकिन यह ज़रूर कहना चाहता हूँ कि यदि हमने इस विषय पर ध्यान दिया होता तो हमारे मध्यम वर्ग को बोझ नहीं उठाना पड़ता। स्वच्छ और हरित ऊर्जा के स्रोतों की दिशा में काम करना और ऊर्जा निर्भरता को कम करना हमारा सामूहिक कर्तव्य है।''

लेकिन तेल की बढ़ती क़ीमतों को लेकर विपक्ष सरकार पर हमलावर है। शनिवार, 20 फरवरी को दिल्ली में युवा कांग्रेस ने पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में बढ़ोतरी के ख़िलाफ़ विरोध-प्रदर्शन भी किया।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया। प्रियंका ने कहा कि, ''भाजपा सरकार को सप्ताह के उस दिन का नाम 'अच्छा दिन' कर देना चाहिए जिस दिन डीजल-पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी ना हो। क्योंकि महंगाई की मार के चलते बाक़ी दिन तो आमजनों के लिए 'महंगे दिन' हैं।

वहीं समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों पर कहा है, ''जिस समय पेट्रोल-डीजल महंगा हो जाता है, उसी समय महंगाई बढ़ जाती है। महंगाई बढ़ाकर इन्होंने पूरे मध्यम वर्ग, गरीब, किसान, नौजवान सबके ऊपर भार डाला है। बीजेपी ने इतनी महंगाई कर दी कि गरीब ये सोच रहा है कि हम बचाएँ क्या ... खाएं क्या? और वो तर्क दे रहे हैं कि इससे देश बनेगा।''

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढ़ा ने कहा है, ''भारतीय जनता पार्टी जिस प्रकार से इस देश को लूट रही है, जिस प्रकार से गरीब लोगों की कमर तोड़ रही है और लोगों की जेब पर डाका डाल रही है, मुझे नहीं लगता है इस देश के इतिहास में इस तरह से किसी भी सरकार ने किया होगा।''
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
नाइजीरिया में एक स्थानीय अधिकारी का कहना है कि पिछले हफ़्ते उत्तर-पश्चिमी नाइजीरिया में स्थित एक स्कूल की जिन क़रीब 300 लड़कियों को अग़वा किया गया था, उन्हें रिहा कर दिया गया ...
भारत के ऊर्जा प्रतिष्ठानों पर चीनी हैकरों के कथित हमले को लेकर महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि साइबर हमले केवल मुंबई तक सीमित नहीं हैं बल्कि इसका दायरा देश भर में फैला ...
 

खेल

 
कोरोना वायरस संक्रमण के सात मामले सामने आने के बाद पाकिस्तान प्रीमियर लीग ट्वेन्टी-ट्वेन्टी क्रिकेट चैंपियनशिप को रद्द कर दिया गया है। पाकिस्तान प्रीमियर लीग ट्वेन्टी-ट्वेन्टी चैंपियनशिप को रद्द करने के ...
 

देश

 
भारत में दिल्ली की सीमाओं पर नवंबर 2020 से डटे हुए किसानों ने कड़कड़ाती ठण्ड झेलने के बाद अब गर्मियों की तैयारियाँ शुरू कर दी हैं। ये किसान केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाये गये तीन नये कृषि ...
 
भारत में रविवार, 28 फ़रवरी 2021 को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश के मेरठ में किसान महापंचायत को संबोधित किया। उन्होंने केंद्र की बीजेपी सरकार पर किसानों की पीठ में छुरा घोंपने का ...