• Name
  • Email
बुधवार, 21 अप्रैल 2021
 
 

रजनीकांत को मिला दादा साहब फाल्के अवॉर्ड, तमिलनाडु के चुनाव से कनेक्शन?

वृहस्पतिवार, 1 अप्रैल, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारतीय सिनेमा और दक्षिण भारतीय फ़िल्मों के दिग्गज अभिनेता रजनीकांत को 51वें दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा जो भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च सम्मान है।

भारत के केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार, 01 अप्रैल 2021 को इसका ऐलान किया। उन्होंने एक ट्वीट के ज़रिए इसकी जानकारी दी।

जावड़ेकर ने लिखा, ''मुझे इस बात की अत्यंत ख़ुशी है कि 2019 का दादा साहेब फाल्के पुरस्कार रजनीकांत को मिला है। पाँच सदस्यों की ज्यूरी ने एकमत से इसकी सिफ़ारिश की है। ज्यूरी में आशा भोंसले, सुभाष घई, मोहन लाल, शंकर महादेवन और बिश्वजीत चटर्जी शामिल थे।''

कोरोना महामारी की वजह से इस बार सभी पुरस्कारों की घोषणा देरी से हुई है। हाल ही में नेशनल अवॉर्ड्स की भी घोषणा की गई थी।

रजनीकांत की लोकप्रियता

दादा साहेब फाल्के को भारतीय सिनेमा का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार माना जाता है।

71 वर्षीय रजनीकांत बीते पाँच दशक से भारतीय सिनेमा पर राज कर रहे हैं।

12 दिसंबर 1950 को बेंगलुरू के एक सामान्य मराठी परिवार में जन्मे रजनीकांत ने अपनी मेहनत से टॉलीवुड ही नहीं, बल्कि बॉलीवुड में भी काफ़ी नाम कमाया।

दक्षिण भारत समेत दुनिया भर में रजनीकांत को उनके प्रशंसक 'भगवान' का दर्जा देते हैं।

तमिलनाडु के चुनाव से कनेक्शन?

हालांकि, सोशल मीडिया पर कुछ लोग भारत के केंद्रीय मंत्री की इस घोषणा को राजनीति से जोड़कर भी देख रहे हैं।

पिछले दिनों ही रजनीकांत ने अपनी सियासी पारी शुरू करने का ऐलान किया था।

उन्होंने भाजपा के साथ गठबंधन के लिए पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व से बात भी की थी। लेकिन बाद में स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए उन्होंने राजनीति में आने की अपनी योजना टाल दी थी।

रजनीकांत अपने प्रशंसकों पर आधारित इकाइयों को राजनीतिक पार्टी में तब्दील करने वाले थे, लेकिन चुनाव से ठीक पहले उन्होंने अपनी एंट्री को टाल दिया।

गुरुवार, 01 अप्रैल 2021 को जब केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर ने रजनीकांत को पुरस्कार दिये जाने की घोषणा की, तो प्रेस वार्ता में उनसे पूछा गया कि क्या तमिलनाडु चुनाव को देखते हुए रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के दिया जा रहा है?

इस सवाल पर जावड़ेकर उखड़ गए और उन्होंने कहा, ''पाँच लोगों की ज्यूरी ने रजनीकांत के नाम की सिफ़ारिश की है। सामूहिक रूप से उनके नाम पर फ़ैसला लिया गया है। इसमें राजनीति कहाँ से आ गई। सवाल सही किया कीजिये। भारतीय सिनेमा में रजनीकांत के योगदान को देखिए।''
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
झारखण्ड की राजधानी राँची और पूर्वी सिंहभूम ज़िलों से हाल में लिये गए सैंपलों में से कम से कम 33 प्रतिशत सैंपलों में सीओवीआईडी के यूके स्ट्रेन और डबल म्यूटेंट वाले वायरस की पुष्टि हुई ...
एक सप्ताह पहले तक भारत, कुल मामलों के लिहाज़ से अमेरिका और ब्राज़ील के बाद तीसरे स्थान पर था। लेकिन पिछले एक सप्ताह में भारत में बहुत तेज़ी से संक्रमण बढ़ा है। कोरोना के कुल मामलों के लिहाज़ से ...
 

खेल

 
एकदिवसीय क्रिकेट की दुनिया के शीर्ष क्रम के बल्लेबाज़ों की आईसीसी रैंकिंग में लंबे समय से टॉप पर रहे विराट कोहली का ताज बुधवार, 14 अप्रैल, 2021 को उस वक्त छिन गया जब पाकिस्तान क्रिकेट टीम ...
 

देश

 
भारत के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने देश के कई राज्यों में चल रही चुनावी प्रक्रियाओं में सीओवीआईडी दिशानिर्देश के कथित उल्लंघनों पर भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त और भारत के ...
 
भारत में कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार केंद्र की बीजेपी सरकार पर हमला बोल रहे हैं। उन्होंने शायरी के अंदाज़ में ट्वीट किया, ''ना कोरोना पर क़ाबू, ना पर्याप्त वैक्सीन, ना रोज़गार ...