• Name
  • Email
मंगलवार, 22 जून 2021
 
 

इसराइल से संबंधों को लेकर यूएई असहज दिखा

रविवार, 6 जून, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
मई 2021 में इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच ख़ूनी संघर्ष के कारण इसराइल और यूएई के रिश्तों में असहजता आई है।

यरुशलम की डिप्टी मेयर ने समाचार एजेंसी एएफ़पी से कहा है कि दोनों देशों के बीच संबंध सामान्य हुए कुछ ही महीने हुए हैं और इस तरह की असहजता पैदा हुई है।

दोनों देशों के बीच हाल ही में कारोबार को लेकर बैठक हुई थी। इस बैठक को लेकर यरुशलम की डिप्टी मेयर फ्लेउर हसन-नाहोउम ने कहा कि बातचीत बिल्कुल खुली थी और हर किसी ने समझदारी का परिचय दिया।

यह बैठक दुबई में द्विपक्षीय निवेश सम्मेलन के नाम से हुई है। फ्लेउर हसन यूएई-इसराइल बिज़नेस काउंसिल की सह-संस्थापक हैं। फ्लेउर हसन ने उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में दोनों देशों के बीच कारोबार अरब डॉलर पार कर जाएगा।

2020 में इसराइल के साथ पूर्ण राजनयिक संबंध क़ायम करने वाला यूएई अरब का तीसरा देश था। इसके लिए अमेरिका में तत्कालीन ट्रंप प्रशासन ने पुरज़ोर कोशिश की थी और ये उसी का नतीजा था। यूएई के इस क़दम की फ़लस्तीनियों ने निंदा की थी।

दोनों देशों में रिश्ते सामान्य होने के बाद से कई तरह के समझौतों की घोषणा की गई है। इनमें दोनों देशों के नागरिकों के बिना वीज़ा की यात्रा की भी बात है।

लेकिन पिछले महीने 11 दिनों तक इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच ख़ूनी हिंसा चली और इसे लेकर अरब के देश असहज रहे। बैठक में दोनों देश के नेताओं के बीच माहौल को लेकर हसन ने कहा कि ये आसान नहीं था।

हसन ने कहा, ''मैं इसराइल और यूएई की कई तरह की बैठकों में शामिल रही हूँ लेकिन यहाँ असहजता थी। जहाँ असहमतियां थीं, वहां भी हमने खुलकर बात की। लोगों के मन में इसराइली सैन्य अभियान को लेकर कई सारे सवाल थे। यह सच है कि दोनों देशों के बीच रिश्तों की शुरुआत है। लंबी अवधि के संबंधों के लिए विश्वास बेहद ज़रूरी चीज़ है। लंबे समय तक हमारे बीच कोई संबंध नहीं था, इसलिए थोड़ा वक़्त लगेगा।''

हसन ने कहा, ''मुख्य रूप से सवाल इसराइल सैनिकों की जवाबी कार्रवाई को लेकर थे लेकिन अल-अक़्सा मस्जिद को लेकर भी पूछा जा रहा था।''
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
कोरोना संक्रमण के मामलों में बीते एक सप्ताह से गिरावट दर्ज की जा रही है जिसके बाद भारत के कई राज्यों ने अपने यहां लागू सख़्त पाबंदियों में राहत देने की घोषणा की है ...
कपिल सिब्बल कांग्रेस के उन 23 नेताओं में शामिल थे जिन्होंने साल 2020 में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर पार्टी में सार्थक सुधारों की मांग की थी और इसके बाद पार्टी में सियासी तूफान ...
 

खेल

 
न्यूज़ीलैंड का मुक़ाबला करने वाली विराट कोहली की टीम में तीन तेज़ गेंदबाज़ और दो स्पिनरों को जगह दी गई है। यानी भारत ने पांच गेंदबाज़ों को आजमाने का फ़ैसला किया है ...
 
शनिवार, 19 जून 2021 को भारत के राज्य पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मिल्खा सिंह के घर जाकर उनके परिवार को सांत्वना दी और उनके प्रति सम्मान जताया ...
 

देश

 
कपिल सिब्बल कांग्रेस के उन 23 नेताओं में शामिल थे जिन्होंने साल 2020 में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर पार्टी में सार्थक सुधारों की मांग की थी और इसके बाद पार्टी में सियासी तूफान ...
 
मंगलवार, 15 जून 2021 को भारतीय सेना ने ट्विटर पर जानकारी दी, "सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे और भारतीय सेना की सभी रैंक ने उन बहादुरों को श्रद्धांजलि दी जिन्होंने लद्दाख की गलवान घाटी में देश की क्षेत्रीय ...