• Name
  • Email
बुधवार, 29 सितम्बर 2021
 
 

बिहार के एक गांव में 16 लोगों की मौत, क्या मौत की वजह ज़हरीली शराब है?

शनिवार, 17 जुलाई, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारत के राज्य बिहार के एक गांव में पिछले कुछ दिनों में 16 लोगों की मौत हो गई है। समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, मौत के इन मामलों की वजह ज़हरीली शराब हो सकती है।

बिहार के पश्चिमी चंपारण ज़िला प्रशासन की ओर से जारी किए बयान के मुताबिक़ मृतकों में से केवल चार लोगों के परिजनों ने इस बात की पुष्टि की है कि मरने से पहले उन्होंने शराब पी थी।

ज़िला प्रशासन का कहना है कि दो मृतकों के परिजनों ने जो दस्तावेज़ दिए हैं, उससे ये मालूम होता है कि उनकी मौत बीमारी के कारण हो सकती है जबकि दस मृतकों के परिजन मृत्यु के कारणों को लेकर स्पष्ट नहीं हैं।

ये सभी मौतें बेतिया के लौरिया पुलिस स्टेशन के देउरवा गांव में हुई हैं। आठ लोगों की मौत गुरुवार, 15 जुलाई 2021 को हो गई थी। इसके दूसरे दिन आठ और लोगों की मौत हो गई।

इस सिलसिले में ज़हरीली शराब पीकर बीमार पड़ने वाले एक पीड़ित के बयान के आधार पर एफ़आईआर दर्ज कर ली गई है और पांच लोगों को गिरफ़्तार भी किया गया है।

बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने अप्रैल, 2016 में शराबबंदी लागू कर दी थी। बिहार में शराब पीने और इसके व्यवसाय पर रोकथाम के लिए कड़े क़ानूनी प्रावधान लागू हैं।

पश्चिमी चंपारण के ज़िलाधिकारी कुंदन कुमार ने गांववालों से इस घटना के बारे में बिना डर के जानकारियां देने की अपील की है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत के राज्यों पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ के राजभवन में सोमवार, 20 सितम्बर 2021 को कांग्रेस नेता चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली ...
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने एक नए शीत युद्ध की चेतावनी देते हुए कहा है कि चीन और अमेरिका को 'पूरी तरह से अस्त-व्यस्त' हुए अपने संबंधों को सुधारना चाहिए। समाचार एजेंसी एपी को ...
 

खेल

 

देश

 
भारत में केंद्र सरकार ने रक्षा मंत्रालय के हवाले से सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि महिलाओं को नेशनल डिफ़ेंस एकेडमी (एनडीए) में दाख़िला लेने के लिए ज़रूरी सभी इंतज़ाम मई 2022 तक पूरे ...
 
भारत में महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों की जनगणना कराए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका पर भारत की केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि ...