• Name
  • Email
मंगलवार, 27 जुलाई 2021
 
 

पेगासस जासूसी कांड की जाँच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में होनी चाहिए: कपिल सिब्बल

मंगलवार, 20 जुलाई, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारत में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने मंगलवार, 20 जुलाई, 2021 को पेगासस जासूसी कांड की जाँच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में कराए जाने की माँग की है।

इसके साथ ही भारत के पूर्व केंद्रीय मंत्री सिब्बल ने कहा है कि सरकार इस मुद्दे पर संसद में श्वेत पत्र पेश करे जिसमें स्पष्ट रूप से बताया जाए कि इसरायली सॉफ़्टवेयर का इस्तेमाल किया गया या नहीं।

जैन हवाला कांड जैसी जाँच की ज़रूरत

कपिल सिब्बल ने एक समय में भारत की राजनीति को हिलाकर रख देने वाले जैन हवाला कांड का नाम लेते हुए कहा कि ''इस मामले की जाँच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में होनी चाहिए जैसे जैन हवाला कांड की हुई थी।''

सिब्बल ने ये भी कहा कि इस मामले की जाँच कैमरे में होनी चाहिए जिससे सभी को सच पता चल सके।

श्वेत पत्र के मुद्दे पर उन्होंने कहा, ''सरकार को ये बताना चाहिए कि उन्होंने कभी भी पेगासस का इस्तेमाल नहीं किया है। लेकिन उन्होंने ये नहीं किया है। इससे एक बड़ी समस्या पैदा होती है कि अगर सरकार या उसकी एजेंसियों ने पेगासस का इस्तेमाल नहीं किया है तो फिर किसने किया है? स्पाइवेयर बनाने वाली कंपनी एनएसओ कहती है कि वह सरकारी एजेंसियों के सिवा किसी को ये सॉफ़्टवेयर नहीं बेचती है।''

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार को श्वेत पत्र में ये भी बताना चाहिए कि क्या उनकी किसी एजेंसी ने पेगासस को इस्तेमाल किया?

सिब्बल ने कहा, ''आप कहते हैं कि आप प्राइवेट डेटा प्रोटेक्शन लेकर आ रहे हैं लेकिन आप पेगासस की मदद से डेटा संग्रहित कर रहे हैं। ये राष्ट्रीय सुरक्षा को एक ख़तरा है क्योंकि डेटा एक ऐसी एजेंसी को लीक होता है जिसका भारत से कोई संबंध नहीं है।''

भारत के केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल का नाम संभावित लक्ष्यों में शामिल होने की ओर संकेत करते हुए सिब्बल ने कहा, ''अगर सरकार या इसकी एजेंसियों ने किसी मंत्री के फोन में मालवेयर भेजकर फोन टैप किया है तो ये ऑफ़िशियल सीक्रेट्स एक्ट का उल्लंघन है।''

देश नहीं सरकार बदनाम हो रही: कपिल सिब्बल

सरकार ने अब तक इस मुद्दे पर लगे आरोपों को एक सिरे से नकार दिया है। भारत के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार, 19 जुलाई 2021 को इन आरोपों को भारतीय लोकतंत्र के ख़िलाफ़ एक साजिश करार दिया है। उन्होंने कहा था कि जासूसी के इन आरोपों का उद्देश्य दुनिया भर में भारत को अपमानित करना है।

इस पर सिब्बल ने कहा कि ''राष्ट्र बदनाम नहीं हो रहा है, बल्कि आपकी सरकार के कर्मों की वजह से सरकार बदनाम हो रही है।''

अमित शाह के 'क्रोनोलॉजी समझिए' वाले बयान पर कांग्रेस नेता सिब्बल ने कहा, ''हम क्रोनोलॉजी समझ रहे हैं। मैं अमित शाह जी से कहना चाहता हूं कि आप इसकी क्रोनोलॉजी समझिए। ये साल 2017 से 2019 के बीच किया गया था।''
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत के राज्य बिहार के एक गांव में पिछले कुछ दिनों में 16 लोगों की मौत हो गई है। समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, मौत के इन मामलों की वजह ज़हरीली शराब हो सकती है ...
भारतीय संसद के उच्च सदन राज्यसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार को कोरोना महामारी पर कठघरे में खड़ा करते हुए सवाल किया। शिवसेना नेता संजय राउत ने भी राज्य सभा में ...
 

खेल

 
टोक्यो के ओलंपिक विलेज में पहला सीओवीआईडी पॉज़िटिव केस पाया गया है। शनिवार, 17 जुलाई 2021 को टोक्यो ओलंपिक के आयोजकों ने इसकी जानकारी थी। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ ...
 
ओलंपिक खेलों का शुभारंभ शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 को होना है और इससे पहले ओलंपिक से जुड़े 70 से ज़्यादा लोग कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं। जुलाई 2021 की शुरुआत में जापान ने ऐलान ...
 

देश

 
भारतीय संसद के उच्च सदन राज्यसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार को कोरोना महामारी पर कठघरे में खड़ा करते हुए सवाल किया। शिवसेना नेता संजय राउत ने भी राज्य सभा में ...
 
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार की मुलाक़ात हुई है। प्रधानमंत्री कार्यालय के ट्विटर अकाउंट से इस मुलाक़ात की एक तस्वीर पोस्ट की गई है ...