• Name
  • Email
बुधवार, 29 सितम्बर 2021
 
 

कंगना रनौत को मिला आख़िरी मौक़ा, नहीं मानने पर हो सकती है गिरफ़्तारी

मंगलवार, 27 जुलाई, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
मुंबई की एक अदालत ने बॉलीवुड फ़िल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को एक अवमानना मामले में पेशी से बचने पर आख़िरी मौक़ा देते हुए उन्हें अगली तारीख़ को अदालत में पेश होने का निर्देश दिया है।

कंगना के ख़िलाफ़ बॉलीवुड गीतकार और शायर जावेद अख़्तर ने अवमानना का मामला दायर किया था और उनकी गिरफ़्तारी की माँग की थी जिसे अदालत ने ख़ारिज कर दिया।

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट आरआर ख़ान ने साथ ही ये कहा कि यदि कंगना रनौत अगली पेशी में नहीं आती हैं तो उनके ख़िलाफ़ गिरफ़्तारी वारंट जारी करने के लिए याचिका दी जा सकती है।

अदालत ने इस मामले की अगली सुनवाई के लिए 1 सितंबर 2021 की तिथि रख दी है।

मंगलवार, 27 जुलाई 2021 को मामले की सुनवाई थी जिसमें कंगना रनौत के वकील ने अपने मुवक्किल की पेशेवर वायदों को वजह बताकर उन्हें निजी तौर पर उपस्थित रहने से छूट देने का आग्रह किया।

इसे स्वीकार करते हुए अदालत ने कहा, ''अभियुक्त के वकील की छूट की अर्ज़ी को आज अंतिम मौक़े के तौर पर स्वीकार किया जाता है। अभियुक्त के वकील को ये निर्देश दिया जाता है कि अभियुक्त अगली तारीख़ को बिना किसी चूक के उपस्थित रहें।''

जावेद अख़्तर ने नवंबर 2021 में कंगना के ख़िलाफ़ ये दावा करते हुए मामला दर्ज़ करवाया था कि कंगना ने एक टीवी इंटरव्यू में उनके (जावेद अख़्तर) ख़िलाफ़ ऐसे बयान दिए जिनसे उनकी प्रतिष्ठा को नुक़सान पहुँचा है।

जावेद अख़्तर ने अपनी शिकायत में कहा था कि कंगना ने 2020 में सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या के बाद बॉलीवुड में एक 'मंडली' के होने की बात करते हुए उनका नाम लिया था।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत के राज्यों पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ के राजभवन में सोमवार, 20 सितम्बर 2021 को कांग्रेस नेता चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली ...
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने एक नए शीत युद्ध की चेतावनी देते हुए कहा है कि चीन और अमेरिका को 'पूरी तरह से अस्त-व्यस्त' हुए अपने संबंधों को सुधारना चाहिए। समाचार एजेंसी एपी को ...
 

खेल

 

देश

 
भारत में केंद्र सरकार ने रक्षा मंत्रालय के हवाले से सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि महिलाओं को नेशनल डिफ़ेंस एकेडमी (एनडीए) में दाख़िला लेने के लिए ज़रूरी सभी इंतज़ाम मई 2022 तक पूरे ...
 
भारत में महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों की जनगणना कराए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका पर भारत की केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि ...