• Name
  • Email
बुधवार, 29 सितम्बर 2021
 
 

इस्लामिक स्टेट 'बीटल्स' के सदस्य ने अमेरिकी बंधकों की हत्या का दोष कबूल किया

शुक्रवार, 3 सितम्बर, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
ब्रिटेन के संदिग्ध इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह के एक सदस्य ने अमेरिकी कोर्ट में चार अमेरिकी बंधकों की हत्या की साज़िश रचने के मामले में ख़ुद का दोष स्वीकार कर लिया है।

एलेक्ज़ेंडर कोटे पर आरोप था कि वो इस्लामिक स्टेट के 'द बीटल्स' नाम के सेल से थे जो कि इराक़ और सीरिया में अपहरणों में शामिल था।

एलेक्ज़ेंडर कोटे और उनके साथी 'बीटल' अल शफ़ी अलशेख़ ने अक्तूबर 2020 में सुनवाई के दौरान ख़ुद के दोषी नहीं होने की बात कही थी।

अब उनकी याचिका में तब्दीली आई है जिसके बाद समझा जा रहा है कि एलेक्ज़ेंडर कोटे ने अभियोजकों के साथ सहयोग किया है।

36 वर्षीय कोटे और 32 वर्षीय अलशेख़ पर अमेरिकी पत्रकारों जेम्स फ़ोली और स्टीवन सोटलॉफ़ और राहत कर्मी पीटर कसिग और कायला म्यूलर की हत्या में शामिल होने का मामला चल रहा है।

उम्रक़ैद की हो सकती है सज़ा

साल 2020 में दोनों को इराक़ में अमेरिकी हिरासत से लाया गया था और उन्हें अधिकतम आजीवन कारावास की सज़ा दी जा सकती है।

हालांकि, यह अभी तक साफ़ नहीं है कि याचिका के लिए प्रशासन के साथ अलशेख़ का क्या सौदा हुआ है।

दोनों ही आदमी अन्य बंधकों की हत्या में संदिग्ध के तौर पर शामिल हैं। इनमें ब्रिटेन के टैक्सी ड्राइवर एलन हेनिंग हैं जो कि एक राहत सामग्री डिलिवर कर रहे थे, उनके अलावा एक स्कॉटिश राहत कर्मी डेविन हेंस और दो जापानी नागरिक हैं।

इसके अलावा दोनों को आतंकवाद का समर्थन करने और बंधक बनाने के लिए भी अलग-अलग सज़ाओं का सामना करना होगा।

मौलिक रूप से पश्चिमी लंदन का यह कथित समूह था जिसको उसके ब्रिटिश उच्चारण के कारण उसके बंधक उसे 1960 के दशक के प्रसिद्ध बैंड के नाम से बुलाते थे।

साल 2018 में दोनों की ब्रिटिश नागरिकता को छीन लिया गया था।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत के राज्यों पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ के राजभवन में सोमवार, 20 सितम्बर 2021 को कांग्रेस नेता चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली ...
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने एक नए शीत युद्ध की चेतावनी देते हुए कहा है कि चीन और अमेरिका को 'पूरी तरह से अस्त-व्यस्त' हुए अपने संबंधों को सुधारना चाहिए। समाचार एजेंसी एपी को ...
 

खेल

 

देश

 
भारत में केंद्र सरकार ने रक्षा मंत्रालय के हवाले से सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि महिलाओं को नेशनल डिफ़ेंस एकेडमी (एनडीए) में दाख़िला लेने के लिए ज़रूरी सभी इंतज़ाम मई 2022 तक पूरे ...
 
भारत में महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों की जनगणना कराए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका पर भारत की केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि ...