• Name
  • Email
बुधवार, 29 सितम्बर 2021
 
 

तालिबान ने अफग़ानिस्तान के प्रधानमंत्री मुल्ला हसन अखुंद की ताज़ा तस्वीर जारी की

सोमवार, 13 सितम्बर, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
हिजाब पहनकर पढ़ें लड़कियां, पर्दे के पीछे से पढ़ा सकते हैं पुरुष शिक्षक: तालिबान

तालिबान ने बताया है कि अफ़गानिस्तान के विश्वविद्यालयों को जेंडर के आधार पर अलग कर दिया जाएगा। साथ ही, इन संस्थानों में नए इस्लामी ड्रेस कोड की शुरुआत की जाएगी।

अफ़गानिस्तान के नए उच्च शिक्षा मंत्री अब्दुल बक़ी हक़्क़ानी ने पत्रकारों को बताया कि देश में सहशिक्षा यानी लड़के-लड़कियों को साथ पढ़ने की अनुमति नहीं मिलेगी।

उन्होंने विश्वविद्यालयों में पढ़ाए जाने वाले विषयों की समीक्षा करने का भी ऐलान किया है।

तालिबान के पहले कार्यकाल के दौरान 1996 और 2001 के बीच अफ़ग़ानिस्तान के स्कूलों और विश्वविद्यालयों में महिलाओं और लड़कियों के पढ़ने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

तालिबान के क़ब्ज़े के बाद पहली बार अंतरराष्ट्रीय उड़ान काबुल पहुंची

समाचार एजेंसी एएफ़पी ने जानकारी दी है कि अफ़ग़ानिस्तान पर तालिबान के क़ब्ज़े के बाद पहली बार कोई अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल फ़्लाइट काबुल पहुंची है।

यह पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की उड़ान थी जो कुछ यात्रियों को लेकर काबुल एयरपोर्ट पर उतरी है।

एएफ़पी के पत्रकार के अनुसार, इस उड़ान में 'तक़रीबन 10 लोग' थे। अल-जज़ीरा ने भी इसकी पुष्टि की है।

अफ़ग़ानिस्तान के लिए क़तर के विशेष दूत क़हतानी ने अल-जज़ीरा को बताया है कि आज (सोमवार, 13 सितम्बर, 2021) की फ़्लाइट इवेकुएशन (निकासी) के लिए नहीं बल्कि यात्रियों की बेरोक-टोक आवाजाही के लिए है।

मुल्ला बरादर के ज़ख़्मी होने या मारे जाने की ख़बर झूठी: सुहैल शाहीन

तालिबान के लिए प्रवक्ता के तौर पर अंतरराष्ट्रीय मीडिया में बात करने वाले सुहैल शाहीन ने मुल्ला बरादर अखुंद के हवाले से उनके ज़ख़्मी होने या मारे जाने की ख़बर को ख़ारिज किया है।

सुहैल शाहीन ने ट्वीट कर दावा किया, "इस्लामिक अमीरात ऑफ अफ़ग़ानिस्तान के उप-प्रधानमंत्री ने वॉइस मैसेज में उन दावों को ख़ारिज किया है, जिनमें एक संघर्ष में उनके मारे जाने या ज़ख़्मी होने की बात कही जा रही थी। उन्होंने कहा है कि यह पूरी तरह से झूठी और बेबुनियाद ख़बर है।"

अफ़ग़ानिस्तान की कमान अपने हाथ में लेने के बाद तालिबान ने 07 सितंबर 2021 को मुल्ला बरादर को उप-प्रधानमंत्री बनाने की घोषणा की थी। तालिबान के संस्थापकों में से एक मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद को तालिबान सरकार का प्रधानमंत्री बनाने की घोषणा की थी।

साल 2010 से लेकर 2018 तक पाकिस्तान की जेल में रहने वाले मुल्ला बरादर ने तालिबान और अमेरिकी सरकार के बीच समझौते में अहम भूमिका निभाई थी।

साल 2010 में पाकिस्तान ने मुल्ला बरादर को कराची में गिरफ़्तार कर लिया और अगले 8 साल तक नहीं छोड़ा था। कहा जाता है कि मुल्ला बरादर पाकिस्तान की पसंद नहीं थे, इसलिए उन्हें प्रधानमंत्री की कुर्सी नहीं मिली।

तालिबान के एक और प्रवक्ता डॉ एम. नईम ने मुल्ला बरादर के उस वॉइस मैसेज को ट्विटर पर पोस्ट किया है।

मुल्ला बरादर ही 2019 से दोहा में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय का नेतृत्व कर रहे थे और अंतरराष्ट्रीय वार्ता भी इन्हीं के नेतृत्व में चल रही थी।

मार्च 2020 में मुल्ला बरादर ने तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से फ़ोन पर बात की थी। इसे डोनाल्ड ट्रंप ने भी हाल ही में स्वीकार किया है। कहा जा रहा था कि मुल्ला बरादर के पास ही अफ़ग़ानिस्तान की नई सरकार की कमान होगी, लेकिन ये भी कहा जा रहा था कि पाकिस्तान उन पर भरोसा नहीं करता है इसलिए मुश्किल है।

तालिबान ने अफग़ानिस्तान के प्रधानमंत्री मुल्ला हसन अखुंद की ताज़ा तस्वीर जारी की

तालिबान ने सोमवार, 13 सितम्बर, 2021 को अफग़ानिस्तान के अंतरिम प्रधानमंत्री मुल्ला हसन अखुंद की अभी की तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की है।

क़तर की राजधानी दोहा में तालिबान के दफ़्तर के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने ये तस्वीर पोस्ट की है। नईम ने तस्वीर के साथ लिखा है, ''प्रेसिडेंटिअल पैलेस में इस्लामिक अमीरात अफ़ग़ानिस्तान के प्रधानमंत्री मुल्ला हसन अखुंद।''

तस्वीर में दिख रहा है कि अखुंद कुर्सी पर बैठे हुए हैं। इससे पहले मुल्ला हसन अखुंद के जवानी के दिनों के तस्वीर ही लोगों ने देखी थी। इस तस्वीर में अखुंद बुज़ुर्ग दिख रहे हैं।

1999 में अखुंद अफ़ग़ानिस्तान के विदेश मंत्री के तौर पर पाकिस्तान आए थे और उन्होंने तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से मुलाक़ात की थी। दोनों नेताओं की गर्मजोशी के हाथ मिलाते हए तस्वीर आज भी सोशल मीडिया पर शेयर की जाती है।

ये वही मुल्ला अखुंद हैं, जिन्होंने 2001 में बामियान में बुद्ध की मूर्तियाँ तुड़वाई थीं।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत के राज्यों पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ के राजभवन में सोमवार, 20 सितम्बर 2021 को कांग्रेस नेता चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली ...
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने एक नए शीत युद्ध की चेतावनी देते हुए कहा है कि चीन और अमेरिका को 'पूरी तरह से अस्त-व्यस्त' हुए अपने संबंधों को सुधारना चाहिए। समाचार एजेंसी एपी को ...
 

खेल

 

देश

 
भारत में केंद्र सरकार ने रक्षा मंत्रालय के हवाले से सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि महिलाओं को नेशनल डिफ़ेंस एकेडमी (एनडीए) में दाख़िला लेने के लिए ज़रूरी सभी इंतज़ाम मई 2022 तक पूरे ...
 
भारत में महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों की जनगणना कराए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका पर भारत की केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि ...