Warning: session_start(): open(/tmp/sess_qv3oskaob2drllug8sqe3qbhf5, O_RDWR) failed: Disk quota exceeded (122) in /home/perwezanwer/public_html/article.php on line 20
 IBTN Khabar - breaking and true news portal
  • Name
  • Email
मंगलवार, 7 दिसम्बर 2021
 
 

बेलारूस की यूरोप को गैस आपूर्ति रोकने की धमकी पर रूस ने चेतावनी दी

रविवार, 14 नवम्बर, 2021  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
बेलारूस ने यूरोप की गैस आपूर्ति में कटौती की धमकी दी थी जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बेलारूस को चेतावनी दी है।

रूस के राष्ट्रपति ने कहा है कि ऐसा करना रूस के साथ अनुबंध का उल्लंघन होगा।

एक टीवी इंटरव्यू के दौरान राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि राष्ट्रपति अलेक्ज़ेंडर लुकाशेंको ने शायद गुस्से में आकर यह धमकी दी होगी।

बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्ज़ेंडर लुकाशेंको देश की पश्चिमी सीमा पर पोलैंड के साथ बढ़ते प्रवासी संकट के साथ नए प्रतिबंधों का सामना कर रहे हैं।

यूरोपीय संघ के अधिकारियों ने बेलारूस पर ब्लॉक सुरक्षा को कमज़ोर करने के लिए मौजूदा स्थिति को भड़काने का आरोप लगाया है। हालांकि बेलारूस इससे इनकार करता है।

बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको ने इस दावे से इनकार किया कि बेलारूस यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों का बदला लेने के लिए सीमा पर प्रवासियों को भेज रहा है।

हजारों की संख्या में लोग (जिनमें से ज़्यादातर इराक, सीरिया और यमन से हैं) पोलैंड के साथ लगी सीमा पर हैं।

प्रवासियों में से ज़्यादातर युवक हैं, लेकिन इनमें महिलाएँ और बच्चे भी शामिल हैं, ज़्यादातर लोग मध्य पूर्व और एशिया से हैं और वे बेलारूस के सीमावर्ती इलाक़े में तंबू में डेरा डाले हुए हैं।

इनके एक तरफ़ पोलिश गार्ड और दूसरी तरफ बेलारूस के गार्ड हैं, ये लोग दोनों के बीच फँसे हुए हैं।

सीमा पर रात में तापमान शून्य से नीचे चला जाता है और हाल के हफ़्तों में यहाँ कई लोगों की मौत हो चुकी है।

शनिवार, 13 नवंबर 2021 को पोलैंड ने बेलारूस के सैनिकों पर रेज़र-वायर से सीमा पर लगे बाड़ को काटने की कोशिश करने का आरोप लगाया ताकि प्रवासी वहां से जा सकें।

इससे पहले, पोलैंड पुलिस ने यह दावा किया था कि एक सीरियाई युवक का शव उन्हें उसी क्षेत्र में सीमा से दूर जंगल में मिला था।

हाल के महीनों में सीमा पर पोलैंड के हिस्से में कम से कम आठ मृत प्रवासी पाए गए हैं। जबकि बेलारूस वाले हिस्से में भी एक शव मिला है।

पोलैंड पर शरणार्थियों को बेलारूस की ओर वापस धकेलने का आरोप लगाया गया है, जो अंतरराष्ट्रीय नियमों के विपरीत है। पत्रकारों और सहायता एजेंसियों के इस क्षेत्र में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

यूरोपीय संघ, नेटो और अमेरिका सभी बेलारूस पर प्रवासियों की संख्या बढ़ाने का आरोप लगाते हैं। यूरोपीय आयोग ने लुकाशेंको पर 'अमानवीय, गैंगस्टर-शैली के तहत यूरोपीय संघ में आसान प्रवेश के झूठे वादे के साथ प्रवासियों को लुभाने का आरोप लगाया है'।

उनका कहना है कि बेलारूस की ये कार्रवाई यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के खिलाफ़ एक प्रतिशोध है। ये प्रतिबंध लुकाशेंको के दोबारा चुनाव के बाद, बड़े पैमाने पर हुए विरोध प्रदर्शनों के बाद लगाए गए थे। इस चुनाव को व्यापक रूप से अविश्वसनीय माना गया था।

कार्यकर्ताओं का कहना है कि बेलारूस और यूरोपीय संघ के बीच एक राजनीतिक खेल में प्रवासियों को मोहरे के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
बांग्लादेश की विपक्षी पार्टी शेख हसीना सरकार को निशाने पर ले रही है। बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉ एके अब्दुल मोमेन ने गुरुवार, 25 नवंबर 2021 को कहा था कि बांग्लादेश का लोकतंत्र ...
संयुक्त अरब अमीरात के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि तुर्की उनका स्वभाविक सहयोगी है क्योंकि दोनों देश समान दृष्टिकोण रखते हैं और कई रणनीतिक विषयों पर उनकी सहमति ...
 

खेल

 

देश

 
भारत के सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना ने शुक्रवार, 26 नवंबर 2021 को कहा है कि संविधान ने कार्यपालिका, न्यायपालिका और विधायिका के बीच शक्तियों के बंटवारे की ...