• Name
  • Email
बुधवार, 6 जुलाई 2022
 
 

संजय राउत ने कहा, अग्निपथ योजना की तुलना में शिवसेना में बेहतर संभावनाएँ

सोमवार, 20 जून, 2022  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
संजय राउत ने कहा, अग्निपथ योजना की तुलना में शिवसेना में बेहतर संभावनाएँ

भारत में शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि युवाओं के पास अग्निपथ योजना के तहत सेना में शामिल होने की तुलना में शिवसेना में शामिल होने पर बेहतर संभावनाएँ हैं। इन दिनों भारत की नरेंद्र मोदी सरकार की अग्निपथ योजना को लेकर बवाल चल रहा है। पिछले कुछ दिनों में भारत के कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। सबसे ज़्यादा हिंसक प्रदर्शन बिहार में हुए हैं। विपक्ष भी लगातार केंद्र की इस योजना की आलोचना कर रहा है।

विपक्ष की मांग है कि सरकार इस योजना को वापस ले। हालाँकि रक्षा मंत्रालय ने स्पष्ट कर दिया है कि ये योजना वापस नहीं होगी। इसी मामले पर ट्वीट करते हुए संजय राउत ने लिखा है- अगर युवा शिवसेना में शामिल होते हैं तो उनके पास अग्निपथ योजना के तहत भारतीय सेना में शामिल होने की तुलना में 4 साल में बेहतर संभावनाएँ हैं।

उन्होंने लिखा है- पिछले चुनाव में वे 4 साल की ट्रेनिंग बिना चौकीदार थे, इस बार वे 4 साल की सेना प्रशिक्षण के साथ चौकीदार होंगे। Youth is angry!! जय हिंद!

कुछ दिनों पहले भी उन्होंने अग्निपथ योजना की आलोचना करते हुए कहा था- हमारी आर्मी को अब तक कभी भी ठेकेदारी पर नहीं रखा गया। ठेकेदारी पर काम करने वाले दूसरे लोग हैं। ग़ुलामों को ठेकेदारी पर रखा जाता है। लेकिन जो अनुशासन बल है, जिनको हमने देश की रक्षा के लिए रखा है उसको कोई ठेकेदारी पर नहीं रखता है।

ओवैसी ने कहा, सरकार चाहती है कि पूर्व सैनिक अडानी-अंबानी के घर के बाहर लाइन लगाएं

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अग्निपथ योजना को लेकर बीजेपी की आलोचना की और योजना वापस लेने की मांग की है।

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, "आप ये क्यों चाहते हैं कि चार साल तक देश की रक्षा करने के बाद, यही युवा पूर्व सैनिक या तो अडानी और अम्बानी के घर के बाहर नौकरी की लाइन में खड़ा हो या बीजेपी के दफ्तरों के बाहर चौकीदारी करे।''

"मोदीजी ने नोटबंदी के बाद 50 दिन मांगे थे, वो अभी तक पूरे नहीं हुए। लॉकडाउन का नतीजा भी हम सबने देखा है। पर ये सरकार है जो कि अपनी गलतियों को दोहराना चाहती है। देश के युवा से टकराना चाहती है।''

उन्होंने कहा, "मोदीजी, युवा भारत का भविष्य हैं, आप और आप के साथ बार-बार एक्सटेंशन लेने वाले रिटायर्ड आईएएस अफसर नहीं। आप इस युवा वर्ग की आवाज़ सुनिए और उनकी मांग पर अमल कीजिये - इस अग्निवीर योजना को तुरंत वापस लीजिये।''

अग्निपथ योजना के तहत केवल चार साल के कार्यकाल को लेकर हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ है। राजनीतिक दल भी इसे लेकर बीजेपी की आलोचना कर रहे हैं और युवाओं के भविष्य को ख़तरे में डालने का आरोप लगा रहे हैं। वहीं, बीजेपी ने विपक्ष पर सेना भर्ती को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया है।

सेना में नई भर्ती योजना अग्निपथ के तहत चार सालों के लिए भर्ती की जाएगी। भर्ती किए गए 25 प्रतिशत युवाओं को भारतीय सेना में चार साल के बाद आगे बढ़ने का मौका मिलेगा जबकि बाकी अग्निवीरों को नौकरी छोड़नी होगी।

हालांकि, असम राइफ़ल्स और अर्धसैनिक बलों में अग्निवीरों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण किया गया है। वहीं, सरकार का कहना है कि उन्हें रोजगार के दूसरे मौकों के लिए भी मदद की जाएगी।

मायावती ने कहा, नोटबंदी और तालाबंदी की तरह थोपी जा रही है अग्निपथ स्कीम

सेना में भर्ती की अग्निपथ योजना को लेकर बसपा प्रमुख मायावती ने बीजेपी की आलोचना की है और अहंकारी रवैए से बचने के लिए कहा है।

मायावती ने कहा, ''केंद्र की अग्निपथ नई सैन्य भर्ती स्कीम देश की सुरक्षा व फौजी के आत्म-सम्मान व स्वाभिमान से जुड़ी होने के बावजूद भाजपा नेतागण जिस प्रकार से अनाप-शनाप व अनर्गल बयानबाज़ी कर रहे हैं, वह घोर अनुचित है। जनता में भ्रम और सेना के लिए मुश्किलें पैदा करने वाली संकीर्ण राजनीति तुरंत बंद हों।''

मायावती ने कहा, ''देश को अचंभित करने वाली नई 'अग्निपथ' सैन्य भर्ती योजना, सरकार द्वारा नोटबंदी और तालाबंदी आदि की तरह ही, अचानक व काफी आपाधापी में थोपी जा रही है, जिससे प्रभावित होने वाले करोड़ों युवा व उनके परिवार वालों में ख़ासा आक्रोश है। सरकार इनके प्रति भी अहंकारी रवैए से बचे।''

अग्निपथ योजना को लेकर भारत में कई जगह हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए हैं। प्रदर्शनकारी इस योजना को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। हालांकि, सरकार ने इसे वापस लेने से इनकार कर दिया है।

अग्निपथ योजना के नाम पर बीजेपी अपना सशस्त्र कैडर तैयार करने की कोशिश कर रही है: ममता बनर्जी

भारत के राज्य पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अग्निपथ स्कीम को लेकर सोमवार, 20 जून 2022 को बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की आलोचना की है।

ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि भगवा खेमा इस नई रक्षा भर्ती योजना के जरिए अपना सशस्त्र कैडर तैयार करने की कोशिश कर रहा है।

ममता बनर्जी ने कहा कि ये योजना देश के सशस्त्र बलों का अपमान है। उन्होंने इस बात पर भी हैरत जताई कि चार साल का सेवा काल पूरा होने के बाद बीजेपी की योजना इन अग्निवीरों को अपने पार्टी कार्यालयों में चौकीदार के रूप में नियुक्त करने की है।

ममता बनर्जी ने राज्य विधानसभा को संबोधित करते हुए कहा, ''बीजेपी अपना सशस्त्र कैडर बेस तैयार करने की कोशिश कर रही है। चार साल पूरा हो जाने के बाद ये लोग क्या करेंगे? पार्टी इन नौजवानों के हाथ में हथियार पकड़ाना चाहती है।''

ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी साल 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले ऐसी योजनाओं की घोषणा करके जनता को मूर्ख बनाने की कोशिश कर रही है।

ममता बनर्जी ने कहा, ''उन्होंने हर साल दो करोड़ नौकरियाँ देने का वादा किया था। लेकिन अब वे ऐसी योजनाओं के नाम पर देश के लोगों को केवल मूर्ख बना रहे हैं।''

पश्चिम बंगाल विधानसभा में अग्निपथ योजना पर ममता बनर्जी की इन टिप्पणियों के विरोध में भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने सदन से वॉक आउट किया।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
मध्य प्रदेश ने अपने से कहीं ज़्यादा मज़बूत समझी जा रही और 41 बार की चैंपियन मुंबई को हरा कर रणजी ट्रॉफ़ी का ख़िताब जीत लिया है। यह पहला मौका है जब मध्य प्रदेश की ...
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे अधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी बन गई हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड भारतीय महिला क्रिकेट ...
 

खेल

 
मध्य प्रदेश ने अपने से कहीं ज़्यादा मज़बूत समझी जा रही और 41 बार की चैंपियन मुंबई को हरा कर रणजी ट्रॉफ़ी का ख़िताब जीत लिया है। यह पहला मौका है जब मध्य प्रदेश की ...
 
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे अधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी बन गई हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड भारतीय महिला क्रिकेट ...
 

देश

 
भारत के सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा को कड़ी फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा की ही अर्ज़ी पर सुनवाई करते हुए कहा है कि नूपुर शर्मा के बयान ने ...
 
भारत में एआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग की है ...