• Name
  • Email
सोमवार, 3 अक्टूबर 2022
 
 

पूर्वी यूक्रेन के रूस समर्थित विद्रोहियों के कब्जे वाले इलाके में भीषण धमाके, कई लोगों की मौत

मंगलवार, 20 सितम्बर, 2022  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
पूर्वी यूक्रेन के दोनेत्स्क शहर में हुए सीरियल धमाकों में 13 लोग मारे गए हैं और कई ज़ख़्मी हैं। ये इलाका रूस समर्थित विद्रोहियों के कब्ज़े में हैं।

रूस समर्थित मेयर ने इस हमले के लिए यूक्रेन को ज़िम्मेदार ठहराया है।

एलेक्सी कुलेमज़िन ने कहा कि यूक्रेन की ओर से की गई गोलाबारी में ये मौतें हुई हैं। हालांकि अब तक यूक्रेन की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है।

दोनेत्स्क पर रूस समर्थित विद्रोहियों का कब्ज़ा 2014 से है।

उन्होंने यूक्रेनी सेनाओं पर लगातार परेशान करने के आरोप लगाए हैं।

इस इलाके में हुए घटनाक्रम और दावों की स्वतंत्र जांच करना थोड़ा मुश्किल है। स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि 150mm के नौ गोले दोनेत्स्क के कुइबीशेव्स्की ज़िले में दागे गए। ये हमला एक गांव से शहर की पश्चिमी इलाके में किया गया।

स्थानीय नेता डेनिस पुशिलिन ने आरोप लगाया है कि यूक्रेन जानबूझ कर बस स्टॉप, दुकानों और बैंक में आम लोगों को निशाना बना रहा है।

रूस की सेनाओं ने 24 फरवरी, 2022 को शुरू हुए लड़ाई के समय ही दोनेत्स्क श्रेत्र को दक्षिण तक अपने कब्ज़े में ले लिया था लेकिन शहर के बाहरी इलाकों से यूक्रेनी सेनाओं को पीछे धकेलने के लिए उन्हें काफ़ी संघर्ष करना पड़ा।

यूक्रेनी सेनाओं ने जवाबी हमले में दक्षिण और उत्तर-पूर्व में रूस को कड़ी टक्कर दी। उनकी सबसे नाटकीय प्रगति सितम्बर 2022 में उत्तरी खारकीएव क्षेत्र में दिखी।

लुहांस्क क्षेत्र के प्रमुख सेरहीय हाइदाइ ने एक वीडियो जारी किया जिसमें यूक्रेनी टैंक को एक पांटून पुल पार करते हुए देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि यूक्रेन ने अब ओस्किल नदी के बाएं किनारे पर नियंत्रण कर लिया है। ये उत्तर-पूर्व यूक्रेन की फ्रंटलाइन के तौर पर देखी जाती है।

अगर यूक्रेनी सेनाएं ओस्किल के पूर्वी तरफ अपनी पकड़ बनाए रखती है तो ये बड़ी कामयाबी होगी। हाइदाइ ने कहा कि उनका अगवा लक्ष्य लाइमन शहर को आज़ाद कराना है, जिस पर मई 2022 में रूसी सेनाओं ने कब्ज़ा कर लिया था।

उन्होंने दावा किया, ''लुहांस्क क्षेत्र ठीक बगल में है। इलाका खाली कराना ज़्यादा मुश्किल नहीं।''

वहीं, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की ने कहा कि बीते दिनों में थोड़ी खामोशी दिखी है।

वो कहते हैं, ''लेकिन ये खामोशी नहीं रहेगी। हमने अगले कदम की तैयारी कर ली है। यूक्रेन आज़ाद होकर रहेगा। पूरा का पूरा।''

यूक्रेन ने सोमवार, 19 सितम्बर, 2022 को रूस पर एक न्यूक्लियर पावर प्लांट पर हमला करने के आरोप लगाए हैं। ये प्लांट यूक्रेन के दक्षिण में माइकोलीएव क्षेत्र में है।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
भारत में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार, 22 सितम्बर, 2022 की सुबह से ही पॉपुलर फ़्रंट ऑफ़ इंडिया के ठिकानों पर भारत के कई राज्यों में ...
एडवर्ड स्नोडेन को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपने देश की नागरिकता देने का आदेश दिया ...
 

खेल

 
कीनिया के दो बार के ओलंपिक चैंपियन एलियुड किपचोगे ने बर्लिन में आयोजित पुरुषों की मैराथन दौड़ में अपना ही विश्व रिकाॅर्ड तोड़ दिया है। वे 2016 और 2020 ओलंपिक के मैराथन चैंपियन ...
 
हॉकी इंडिया के अध्यक्ष पद के लिए भारत के पूर्व कप्तान दिलीप तिर्की को निर्विरोध चुना गया है ...
 

देश

 
भारत में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार, 22 सितम्बर, 2022 की सुबह से ही पॉपुलर फ़्रंट ऑफ़ इंडिया के ठिकानों पर भारत के कई राज्यों में ...
 
विपक्ष को एकजुट करने के मक़सद से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने रविवार, 25 सितम्बर 2022 को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से ...