• Name
  • Email
शनिवार, 3 दिसम्बर 2022
 
 

आशा पारेख को दादा साहब फाल्के पुरस्कार मिला

मंगलवार, 27 सितम्बर, 2022  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
आशा पारेख को उनके 80 वें जन्म दिन से ठीक पहले दादा साहब फाल्के पुरस्कार मिलना उनके लिए एक खूबसूरत सौगात है। उनका 2 अक्टूबर को 80वां जन्म दिन है। जबकि इस बार का राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार समारोह 30 सितंबर 2022 को होना निश्चित हुआ है।

हिन्दी सिनेमा की दिलकश और बेहद सफल अभिनेत्री आशा पारेख ने अपने फ़िल्म करियर में एक से एक यादगार फ़िल्म की है। जब प्यार किसी से होता है, तीसरी मंज़िल, लव इन टोक्यो, दो बदन, उपकार, कन्यादान, आन मिलो सजना, कटी पतंग, समाधि और मैं तुलसी तेरे आँगन की।

इधर आशा पारेख को सन 2020 के लिए भारतीय सिनेमा का यह शिखर पुरस्कार मिलना और भी बड़ी बात है, क्योंकि भारत सरकार ने 37 साल बाद किसी फ़िल्म अभिनेत्री को फाल्के सम्मान दिया है। पिछली बार वर्ष 1983 के लिए अभिनेत्री दुर्गा खोटे को यह सम्मान मिला था, अन्यथा फाल्के पुरस्कार पर अधिकतर पुरुषों का वर्चस्व रहा है।

जबकि फाल्के पुरस्कार की शुरुआत सन 1969 में अभिनेत्री देविका रानी के साथ हुई थी, जब 1970 में 17 वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में देविका को इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था, लेकिन बाद में पुरुष ही इस पुरस्कार को ज्यादा पाते रहे।
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
फ़ीफ़ा विश्व कप में दो बार के विश्व चैंपियन अर्जेंटीना पर सऊदी अरब की जीत के बाद बुधवार, 23 नवम्बर 2022 को एक और बड़ा उलट-फेर हुआ है। आज बारी जापान की थी ...
गुजरात हाई कोर्ट ने मोरबी पुल हादसे में मृतकों और घायलों को दिए जाने वाले मुआवज़े को लेकर भी गुजरात सरकार को फटकार लगाई है ...
 

खेल

 
फ़ीफ़ा विश्व कप में दो बार के विश्व चैंपियन अर्जेंटीना पर सऊदी अरब की जीत के बाद बुधवार, 23 नवम्बर 2022 को एक और बड़ा उलट-फेर हुआ है। आज बारी जापान की थी ...
 
फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप में रविवार, 27 नवम्बर 2022 को मोरक्को ने बड़ा उलटफेर करते हुए बेल्जियम पर 2-0 से जीत दर्ज की। इसके बाद बेल्जियम और नीदरलैंड्स के कई शहरों में दंगे शुरू हो गए ...
 

देश

 
भारत के सुप्रीम कोर्ट ने अरुण गोयल को 19 नवंबर 2022 को चुनाव आयुक्त नियुक्त किए जाने के तरीके पर कड़ी नाराज़गी जताई है ...