• Name
  • Email
शनिवार, 3 दिसम्बर 2022
 
 

निचली अदालत के जज डर के कारण ज़मानत नहीं देते: भारत के मुख्य न्यायाधीश

रविवार, 20 नवम्बर, 2022  आई बी टी एन खबर ब्यूरो
 
 
भारत के मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़ ने शनिवार, 19 नवम्बर 2022 को कहा कि निचली अदालत के जज गंभीर मामलों में ज़मानत देने से बचते हैं क्योंकि उन्हें एक तरीके का डर होता है। वे डरते हैं कि कहीं बेल देने पर उन्हें निशाना न बना लिया जाए।

उन्होंने कहा कि निचली अदालत के जज ऐसा इसलिए नहीं करते क्योंकि उन्हें अपराध की समझ नहीं है, बल्कि वे ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि उनके अंदर एक डर की भावना है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़ बार काउंसिल ऑफ इंडिया के द्वारा आयोजित अभिनंदन समारोह में बोलते हुए मुख्य न्यायाधीश ने कहा, ''निचली अदालतों के कारण शीर्ष अदालतें ज़मानत याचिकाओं से भर गई हैं।''

जब मुख्य न्यायाधीश ज़मानत याचिकाओं से जुड़े मुद्दे पर बोल रहे थे, तब कार्यक्रम में क़ानून मंत्री किरेन रिजिजू भी मौजूद थे।

क़ानून मंत्री ने कई वकीलों के केस ट्रांसफर से जुड़े मसले पर चिंता ज़ाहिर की है।

उन्होंने कहा, "मैंने सुना है कि कुछ वकील केस के ट्रांसफर को लेकर मुख्य न्यायाधीश से मिलना चाहते हैं। ये किसी एक मामले में हो सकता है लेकिन अगर यह आदत बन जाती है तो पूरा आयाम बदल जाएगा।''
 
 
 
 
 
 
 
 
 

खास खबरें

 
फ़ीफ़ा विश्व कप में दो बार के विश्व चैंपियन अर्जेंटीना पर सऊदी अरब की जीत के बाद बुधवार, 23 नवम्बर 2022 को एक और बड़ा उलट-फेर हुआ है। आज बारी जापान की थी ...
गुजरात हाई कोर्ट ने मोरबी पुल हादसे में मृतकों और घायलों को दिए जाने वाले मुआवज़े को लेकर भी गुजरात सरकार को फटकार लगाई है ...
 

खेल

 
फ़ीफ़ा विश्व कप में दो बार के विश्व चैंपियन अर्जेंटीना पर सऊदी अरब की जीत के बाद बुधवार, 23 नवम्बर 2022 को एक और बड़ा उलट-फेर हुआ है। आज बारी जापान की थी ...
 
फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप में रविवार, 27 नवम्बर 2022 को मोरक्को ने बड़ा उलटफेर करते हुए बेल्जियम पर 2-0 से जीत दर्ज की। इसके बाद बेल्जियम और नीदरलैंड्स के कई शहरों में दंगे शुरू हो गए ...
 

देश

 
भारत के सुप्रीम कोर्ट ने अरुण गोयल को 19 नवंबर 2022 को चुनाव आयुक्त नियुक्त किए जाने के तरीके पर कड़ी नाराज़गी जताई है ...